What is PHP, Its Uses and Features?(PHP क्या है ?इसके उपयोग  और फीचर्स)

By | July 29, 2021
what is php? variable

what is php? variable

What is PHP, Its Uses and Features?(PHP क्या है? इसके उपयोग  और फीचर्स)

आज हम आपको इस आर्टिकल में बताने वाले हैं कि PHP क्या है और इसका उपयोग क्यों करते हैं और  क्या-क्या  फीचर्स हैं और  Variable क्या होते हैं | 

PHP INTRODUCTION

 इसका  पूरा नाम (Hypertext Preprocessor) होता है |  PHP सर्वर साइड स्क्रिप्टिंग लैंग्वेज है जोकि web application को dynamic बनाने के लिए प्रयोग  किया जाता है| और हम इसे web application  को interactive बनाने के लिए  भी प्रयोग करते हैं|

Note: जब हम प्रोग्रामिंग लैंग्वेज के साथ एचटीएमएल कोड का प्रयोग करते हैं तो वह स्क्रिप्टिंग लैंग्वेज कहलाती है|

Scripting Language:- Programming Language+HTML

 इस लैंग्वेज का आविष्कार Rasmus Lerdorf  ने सन 1994 में  किया था वर्तमान समय में  PHP  सबसे प्रतिभाशाली लैंग्वेज मानी जाती है| वर्तमान समय में बहुत सारे प्रोजेक्ट  PHP  लैंग्वेज का उपयोग करके  बनाए जा रहे हैं|   PHP के कुछ Popular  portals  निम्नलिखित है:

1.Facebook

2.Myntra

3.Snapdeal

4.Flipkart etc.

 PHP  ऐसी Scripting Language है जोकि web application  और web page को Server Side मे Control करने के लिए प्रयोग किया  जाता है|

इस लैंग्वेज में हम variable बनाने के लिए $( डॉलर) symbol  का प्रयोग करते हैं| और Php Language में खास बात होती है कि variable का डाटा टाइप नहीं बताना होता है जिस प्रकार की value assign होती है वह उसे उसी के अनुसार समझ लेती है|

 SCRIPTS

Php  के Scripts <?php से start  होते हैं  और ?> से समाप्त होते हैं|  जब भी हमें PHP का कोड लिखना होता है तो हम इन्हीं दोनों scripts के बीच में अपने कोड को लिखते हैं  हम आपको एक उदाहरण द्वारा समझाते हैं|

<?php

echo “Hello World”;

?>

Output:Hello World 

PHP में echo का प्रयोग आउटपुट दिखाने के लिए किया जाता है|

PHP की विशेषताएं (Features of PHP)

1.यह एक open source scripting language है|

2.PHP script को सर्वर पर executeकिया जाता है|

3.यह डाउनलोड करने और उपयोग करने के लिए free में उपलब्ध है| 

4.PHP फ़ाइलों में  HTML, CSS जावास्क्रिप्ट और PHP कोड शामिल हैं|

5.इसका  कोड सर्वर पर execute किया जाता है और परिणाम ब्राउज़र को Plain HTML के रूप में वापस कर दिया जाता है|

6.पीएचपी फाइल का एक्सटेंशन .PHP  होता है|

हम PHP का उपयोग क्यों करते हैं?(why we use PHP)

1.यह  विभिन्न प्लेटफार्मों पर run  होता है जैसे (Windows,Linux,Unix,Mac,OSX etc).

2.यह लैंग्वेज आज उपयोग की जाने वाली लगभग सभी सेवाओं के साथ Compatible है जैसे(Apache,IIS etc). 

हम सर्वर साइड स्क्रिप्टिंग लैंग्वेज कह रहे हैं तो हमें यह पता होना चाहिए कि Server  क्या होता है|

Server: Server एक कंप्यूटर होता है जो कि दूसरे कंप्यूटर को डाटा प्रोवाइड करता है|

PHP विभिन्न प्रकार के server को सपोर्ट करती है दिन में सब कुछ निम्नलिखित हैं:

1.WAMP(Windows Apache Mysql Php) .

2.Lamp(Linux Apache Mysql Php) .

3.XAMPP(CrossPlateform Apache Mysql Php) .

4.MAMP(Mac Apache Mysql Php) .

PHP का लाभ(advantage of PHP)

1.यह   एक open source scripting language  है|

2.इसका  का कोड किसी भी ऑपरेटिंग सिस्टम पर Run कराया जा सकता है|

3.यह  Powerful स्क्रिप्टिंग लैंग्वेज है जिसका प्रयोग करके हम बड़ी से बड़ी वेबसाइट को बना सकते हैं और डेटाबेस को आसानी से Mannage कर सकते हैं|

4.यह लैंग्वेज User Friendly  होता है और website पर ट्रैफिक को बढ़ाता है|

5 .यह  कोड बहुत तेजी से execute होता है|

Disadvantage of PHP

PHP Framework में एक useless  Error Handling Method है. जोकि  PHP Developers के लिए सही हल नहीं है इसलिए  एक योग्य PHP Developer को  कठिनाईयों  का सामना करना पड़ता है| 

Variables in PHP

Varriable :Variable वैल्यू कंटेनर है जिसमें एक वैल्यू होता है जिसकी वैल्यू प्रोग्राम के execution के दौरान बदली जा सकती है |  

PHp में वेरिएबल बनाने के लिए $ symbol का प्रयोग किया जाता है और ‘=’ operator का प्रयोग करके value assign की जाती है| php मे हमें  डाटा टाइप बताने की आवश्यकता नहीं होती है जिस प्रकार की वैल्यू होती है वह उसे अपने अनुसार समझ लेता है कि हमें किस प्रकार का task परफॉर्म करना है|

 

 वेरियस बनाने के लिए कुछ Rules निम्नलिखित हैं-

1 .variables को number से प्रारंभ नहीं किया जा सकता,यह  किसी अक्षर या अंडरस्कोर(_) से प्रारंभ होता है|

2.variables का नाम alphanumeric (A-Z,0-9)  होता है|

3.variables  का नाम case sensitive  होता है|

PHP में तीन प्रकार के वेरिएबल होते हैं|

1.Local Variable(Under A Function).

2.Global Variable(Out Of A Function).

3.Static Variable(Use of Static Keyword).

 मुझे उम्मीद है कि आपको आपकी इच्छा अनुसार जानकारी इस पोस्ट में आपको प्राप्त हुई होगी फिर भी कोई प्रॉब्लम होती है तो हमें  कमेंट बॉक्स में लिखकर जरूर बताएं|

और अन्य बहुत सारी जानकारी के लिए हमारी वेबसाइट hindimehelppao.com   पर क्लिक करें|

पर्सनल लोन से संबंधित जानकारी के लिए दिए गए लिंक loanforcash.in  पर क्लिक करें

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.