सभी हिन्दू नहीं जानते हैं शिवलिंग का रहस्य और सच्चाई : The Lord Shiva

By | April 1, 2020

भगवान शिव आदि है अनंत है महाकाल हैं संपूर्ण ब्रह्मांड में कोई भी ऐसा व्यक्ति नहीं जो भगवान शिव के बारे में ना जानता हो। यह तो बहुत से लोगों ने दावा किया है उन्होंने भगवान शिव को देखा है बहुत से ऐसे लोग हैं जो भगवान शिव को नहीं देख पाते हैं तो ऐसे में शिवलिंग की पूजा करते हैं आखिर शिवलिंग क्या है शिवलिंग का वास्तविक अर्थ क्या है आखिर शिवलिंग क्या प्रस्तुत करता है और क्या दर्शाता है?
आज हम आपको अपने ब्लॉग में शिवलिंग के सभी रहस्यों से पर्दा उठा कर एक-एक बात से रूबरू करवाएंगे। दोस्तों बहुत से लोगों ने इस शिवलिंग का गलत अर्थ बताकर लोगों को गुमराह किया है। विदेशी लोगों के साथ-साथ अपने देश के लोग भी इसमें शामिल है इन लोगों ने शिवलिंग का इतना गंदा मतलब निकाल रखा है जिसको हम बताना भी महादेव का अपमान समझते हैं लेकिन अब और नहीं आज के बाद में आपको शिवलिंग का वास्तविक अर्थ और उसका मतलब पता चल जाएगा इस ब्लॉग को पूरा अंत तक पढ़िए बस।



दोस्तों शिवलिंग एक संस्कृत का शब्द है जिसका मतलब होता है “प्रतीक” यानी शिवलिंग का मतलब हुआ शिव का प्रतीक एक ऐसी चीज जिसको हम शिव मानकर उसकी पूजा करते हैं आज हम बताएंगे आपको शिवलिंग के बारे में और इसकी खास शक्तियों के बारे में शिवलिंग एक ऐसा ढांचा है जिसको एक खास मकसद के लिए बनाया जाता है आपने भगवान शिव के कई तरह के शिवलिंग देखे होंगे यह सभी शिवलिंग मनुष्य के द्वारा बनाए गए हैं कहीं-कहीं भक्ति दिखाने के लिए जैसा अपने मन में आया शिवलिंग को वैसा आकार दे दिया गया लेकिन कुछ कुछ शिवलिंग ऐसे हैं जो प्राकृतिक रूप से बने हुए हैं। हम जब 12 ज्योतिर्लिंगों को देखते हैं तो उन सबका आकार अलग है। क्योंकि अलग-अलग मकसद के लिए अलग-अलग शिवलिंग बनाए गए हैं इनमें से कुछ शिवलिंगो को सेहत के लिए बनाया गया और कुछ शिव शिवलिंगो को खुशहाली के लिए और कुछ को ध्यान साधना के लिए इन सब चीजों में सिर्फ एक चीज समान है वोन ये कि यह सभी शिवलिंग अलौकिक है इसका सरल अर्थ है किसी किसी स्त्री या पुरुष का प्रतीक ना होकर संपूर्ण ब्रह्मांड आकाश, सूर्य और निराकार का प्रतीक है। उन्हें किसी एक चीज में नहीं रखा जा सकता क्योंकि खुद वह एक प्रतीक हैं अगर आप वैज्ञानिकों द्वारा ली गई कुछ तस्वीर को देखेंगे तो आप देखेंगे कि हमारा ब्रह्मांड भी शिवलिंग से मिलता-जुलता है। 
  स्कंद पुराण के अनुसार आकाश स्वयं एक लिंग के अनुरूप है और शिवलिंग समस्त ब्रह्मांड की दूरी है शिवलिंग अनंत है ना इसकी शुरुआत है और ना कोई अंत इसलिए शिवलिंग का एक अर्थ अंत भी होता है बहुत से शिवलिंगो को प्राचीन ज्ञान और निर्देशों से बनाया गया है आपको यह भी पता होगा भगवान शिव को विनाशक भी कहा जाता है जो इस ब्रह्मांड की शुरुआत भी है और अंत भी दोस्तों इस ब्रह्मांड में असल में सिर्फ दो ही चीजें हैं जो वास्तविक हैं जिसमें से एक है एनर्जी और दूसरा है पदार्थ मानव शरीर पदार्थ से निर्मित है और आत्मा एनर्जी से इसी प्रकार शिव पदार्थ हैं और उनकी शक्तियां ऊर्जा और यह दोनों मिलकर शिवलिंग बनाते हैं वास्तव में शिवलिंग हमारे ब्रह्मांड की एक आकृति है शिवलिंग भगवान् शंकर का और माता पार्वती का आदि अनादि रूप है किसी मूर्ख को आसान भाषा में समझाने के लिए बता सकते हैं शिवलिंग शिव का प्रतीक है ना की लिंग का शिवलिंग से जुड़ी एक कहानी भी हम आपसे साझा करना चाहेंगे


एक बार भगवान ब्रह्मा और विष्णु के बीच लड़ाई हो गई कि आखिर में हम दोनों में से कौन बड़ा है किसकी शक्तियां सबसे बड़ी है दोनों लोग आपस में बहस करने लगे इतनी देर में एक आकाशवाणी हुई कि एक खास काला पत्थर है जिसकी ऊंचाई और गहराई का अगर किसी ने भी अंदाजा लगाया तो वही सबसे बड़ा होगा ऐसे में जैसे ही भगवान ब्रह्मा ने सुना तुरंत उसकी तरफ रुख किया ताकि उसका अंतिम छोर वह ढूंढ सकें वही भगवान विष्णु उसकी जड़ की तरफ बढ़े उनको यह पता था कि किसी पौधे की बात इस शिवलिंग का कोई ना कोई अवश्य होगा और दोनों लोग उस काले पत्थर के शुरुआत और अंतिम छोर को ढूंढते हुए बढ़ते रहें और जब वह हार कर हताश हो गए तब फिर से आकाशवाणी हुई यदि आप दोनों लोग इसे ढूंढने में असमर्थ हैं तो आप सर्वशक्तिमान नहीं है और उसी समय प्रकट हुए भगवान शिव और उसी काले पत्थर के रूप में उनके सामने थे यूं तो काला पत्थर कहना बहुत गलत है लेकिन आजकल के वास्तविक जीवन में हर कोई यही कहता है जो नास्तिक है वह भी जो आस्तिक है वह भी लेकिन शायद उसको यह नहीं पता कि एक काला पत्थर भगवान शिव का ही अनंत प्रतीक है जिसके अंतिम छोर को ढूंढने में भगवान ब्रह्मा और भगवान शिव भी परेशान हो गए थे तो दोस्तों यही है शिवलिंग का वास्तविक अर्थ।

   दोस्तों आज आप वचन दीजिए कि यदि कोई भी आपसे भगवान शिव के प्रति का कुछ दूसरा अर्थ आपको बताता है या समझाता है तो आप उसे तुरंत मुंहतोड़ जवाब देंगे और इस ब्लॉक को पढ़ने के लिए आप जरूर प्रेरित करेंगे।

अगर आप कोई सुझाव या किसी भी प्रकार की कोई जानकारी देना चाहते है तो आप हमें मेल (contact@hindimehelppao.com) कर सकते है या Whatsapp  (+919151529999) भी कर सकते हैं| 

Leave a Reply

Your email address will not be published.